Home » Indian Railway News » अब दुनिया के सबसे ऊंची रेलवे पुल से होकर गुजरेगी वंदे भारत एक्सप्रेस
Indian Railway News

अब दुनिया के सबसे ऊंची रेलवे पुल से होकर गुजरेगी वंदे भारत एक्सप्रेस

भारत देश में रेल मंत्रालय वंदे भारत एक्सप्रेस का कई रास्तों पर संचालन कर रहा है और आने वाले समय में कई और रास्तों पर इसे चलाने का ऐलान कर दिया गया है. इसी क्रम में अब वंदे भारत एक्सप्रेस को जम्मू और कश्मीर में भी चलाया जाएगा. इसके साथ-साथ यह ट्रेन चिनाब नदी के ऊपर बन रहे दुनिया के सबसे ऊंचे पुल से होकर भी गुजरेगी. यह सोच कर ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि जब दुनिया के सबसे ऊंचाई वाले रेलवे ब्रिज से वंदे भारत तेज रफ्तार में निकलेगी तो वह नजारा कितना रोमांचक होगा.

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस बारे में कहा कि उधमपुर-श्रीनगर-बारामुला रेल लिंक को पूरी तरह से चालू हो जाने के बाद ही वंदे मेट्रो जम्मू और श्रीनगर को जोड़ेगी. एक रिपोर्ट के अनुसार रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने चिनाब नदी पुल निर्माण स्थल से लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यूएसबीआरएल परियोजना पूरी तरह से तैयार होने की संभावना दिसंबर 2023 या जनवरी 2024 तक है. उन्होंने कहा एक बार यह रेलवे लाइन पूरी तरह से चालू हो जाएगी उसके बाद इस रेलवे लिंक पर वनडे भारत एक्सप्रेस भी चलेगी. इस एक्सप्रेस के सुचारू रूप से चलाया जा सके इसके लिए जम्मू और कश्मीर के बडगाम में इसके रखरखाव की सुविधाएं भी की जाएंगी.

वंदे भारत एक्सप्रेस

नदी के तल से 359 मीटर ऊपर बना हुआ है यह रेलवे ब्रिज

आपको बता दें चिनाब नदी पुल नदी के तल से 359 मीटर ऊपर बना हुआ है और यह दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे ब्रिज है. इस ब्रिज पर ट्रैक बिछाने का काम लगभग पूरा हो चुका है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने व्हील माउंटेन ट्रॉली पर बैठकर रेल की पटरियों की सवारी का आनंद लिया. यह पुल 1.3 किलोमीटर लंबा है और कटरा से बनिहाल तक 111 किलोमीटर के दायरे में यह बहुत ही आवश्यक कड़ी है. आपको बता दें कोंकण रेलवे कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा इस पुल को बनाया जा रहा है. इसकी अनुमानित लागत 1486 करोड़ रुपए है.

इस पुल को लेकर कई सारी खासियत हैं. इसकी सबसे पहली खासियत यह है कि यह पुल 266 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं को बहुत ही आसानी से सहन कर लेगा. और यदि यहां भूकंप आता है तो यह पुल नहीं टूटेगा. यूएसबीआरएल प्रोजेक्ट जम्मू और कश्मीर को शेष भारत से जोड़ेगा और अब हर एक मौसम में यह कनेक्टिविटी प्रदान करेगा. दूसरी ओर भारतीय रेलवे इस समय काफी तेज गति से काम कर रहा है और देश के अलग-अलग रास्तों पर वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को चलाया जा रहा है. भविष्य में कई अन्य राज्यों में भी वंदे भारत ट्रेन चलने वाली हैं. आपको बता दें आने वाले अप्रैल महीने के पहले सप्ताह में वंदे भारत ट्रेन अजमेर से नई दिल्ली वाया जयपुर चलाई जाएगी.

About the author

Durga Pratap Rathore

में एक हिंदी कंटेंट राइटर हूँ | में इस वेबसाइट पर Entertainment, Sarkari Yojana & News के बारे में सटीक जानकारी अपडेट करता हूँ |

Add Comment

Click here to post a comment